सदर अस्पताल जामताड़ा में इलाज के दौरान एक की मौत परिजनों ने लगाया डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप

सदर अस्पताल जामताड़ा में इलाज के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई। जिसमें परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है

सदर अस्पताल जामताड़ा में इलाज के दौरान एक की मौत परिजनों ने लगाया डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप

सदर अस्पताल जामताड़ा में इलाज के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई। जिसमें परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है बता दें कि सरखेलडीह निवासी 40 वर्षीय विशु बाउरी की तबीयत रात में बिगड़ गई थी । सुबह परिजनों ने उठाकर उसे सदर अस्पताल ले गया जाहा चिकित्सक ने उसे भर्ती कर दिया और उसका इलाज शुरू कर दिया लेकिन शिफ्ट चेंज होने के बाद जो नए डॉक्टर आए उन्होंने मरीज को नहीं देखने का परिजनों ने आरोप लगाया है।

परिजनों का कहना है कि मरीज को सलाईन लगा दिया गया था लेकिन डॉक्टर एक बार भी देखने नहीं आए जब शरीर ठंडा होने लगा तो नर्स को बताया गया तब नर्स ने सेलाइन निकाल दी और कंबल उड़ा दिया उसके बाद नर्स डॉक्टर से पूछने गए लेकिन डॉक्टर नहीं मिले।

परिजनों के पूछने पर नर्स ने बताया कि डॉ नहीं है कब आएंगे इसकी जानकारी भी नहीं है उसके बाद लगभग 11:30 बजे मरीज की मौत हो गई इस मामले में ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी सदस्य सह मजदूर नेता हरिमोहन मिश्रा ने कहा कि अगर ऐसी बात है तो इस मामले की जांच होनी चाहिए और जो दूसरी डॉक्टर है उस पर कार्रवाई होनी चाहिए डॉक्टर की लापरवाही के कारण सरकार की बदनामी बर्दाश्त नहीं की जा सकती है।

वहीं सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है डॉक्टर मरीज को देखने गया था और उन्हें दवा भी दी गई थी कहा कि मरीज को विलंब से लाया गया था जिसकी वजह से मरीज की मौत हुई है।