श्रावणी मेला को लेकर निकाले जा रहे टेंडर में हो रहा गेम, स्पेशल डिवीजन के हाथ में फ़ैसला

श्रावणी मेला को लेकर कांवरिया पथ के लिए एनआईटी दो के लिए बीएक्यू जमा करने का आज आखिरी तारीख और दिन के 2:00 बजे तक का समय निर्धारित किया गया था, लेकिन अभियंता के आदेश पर आज बी ए क्यू जमा करने नहीं दिया गया और अधिकारी अभियंता भी मोटे से गायब हो गए.

श्रावणी मेला को लेकर निकाले जा रहे टेंडर में हो रहा गेम, स्पेशल डिवीजन के हाथ में फ़ैसला

झकास न्यूज़ 

देवघर: श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर लगातार टेंडर निकाला जा रहा है, लेकिन स्पेशल डिवीजन में आज अधिकारियों ने टेंडर गेम खेल दिया. दरअसल, श्रावणी मेला को लेकर कांवरिया पथ के लिए एनआईटी दो के लिए बीएक्यू जमा करने का आज आखिरी तारीख और दिन के 2:00 बजे तक का समय निर्धारित किया गया था, लेकिन अभियंता के आदेश पर आज बी ए क्यू जमा करने नहीं दिया गया और अधिकारी अभियंता भी मोटे से गायब हो गए. जिसके बाद दर्जनों की संख्या में पहुंचे संवेदको ने हंगामा शुरू कर दिया. इन संवेदको का आरोप था कि गुप्त रूप से इस टेंडर को मैनेज कर लिया गया है. वहीं आज 2:00 बजे तक का समय जमा करने के लिए रखा गया था, लेकिन अभियंताओं ने इससे आंतरिक रूप से मैनेज कर लिया है, जबकि काफी देर हंगामा करने के बाद एक पत्र डीडीसी के नाम लिखा गया और सामूहिक रूप से लोगों ने इसकी शिकायत दर्ज कराई.

मामला बढ़ता देख स्पेशल डिवीजन के अभियंता जितेंद्र पासवान कार्यालय पहुंचे इसके बाद आवेदकों से वार्ता होने के उपरांत बीएचयू लेने की प्रक्रिया शुरू की गई, तब जाकर मामला शांत हुआ. जितेंद्र पासवान ने कहा कि उन्होंने कर्मियों से मौखिक आदेश देकर बीएचयू लेने की बात कही थी, लेकिन कर्मियों ने नहीं किया. ऐसे में बात बढ़ गई, लेकिन व्यवस्था कर ली. सब ऊपर छोड़ दिया जा रहा है.

 गौरतलब है कि देवघर में श्रावणी मेला के नाम पर कई टेंडर निकाले जा रहे हैं और इसमें बीच-बीच में टेंडर गेम भी सामने आ रहा है अब देखना दिलचस्प होगा कि स्पेशल डिवीजन के द्वारा इस टेंडर का अंजाम क्या होता है.