Jagnnath Rath Yatra 2022: जगन्नाथपुर का ऐतिहासिक तीन मंजिला रथ बनकर तैयार, देखें रथ की खूबसूरती

कोरोना महामारी के कारण 2 साल बाद 01 जुलाई से जगन्नाथ रथ यात्रा शुरू होने वाली है. झारखंड सरकार द्वारा मेले की अनुमति मिलते ही जिले वासियों और मेले में स्टॉल लगाने वाले दुकानदारों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी.

Jagnnath Rath Yatra 2022: जगन्नाथपुर का ऐतिहासिक तीन मंजिला रथ बनकर तैयार, देखें रथ की खूबसूरती

Jhakash News, jharkhand

Ranchi News: कोरोना महामारी के कारण 2 साल बाद 01 जुलाई से जगन्नाथ रथ यात्रा शुरू होने वाली है. झारखंड सरकार द्वारा मेले की अनुमति मिलते ही जिले वासियों और मेले में स्टॉल लगाने वाले दुकानदारों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी. रांची में जगन्नाथपुर रथ यात्रा के लिए नया रथ बनकर बिल्कुल तैयार है, फिलहाल रथ के आसन और स्ट्रक्चर की पेंटिंग का काम चल रहा है. इधर मेले में बड़े- बड़े झूले और बच्चों के मनोरंजन के सामान भी सजने लगे है. बताए आपको कि जगन्नाथपुर में इस बार आपको सब कुछ बदला बदला सा दिखाई देगा. जो मुख्य मंदिर पहले सफेद हुआ करता था इस बार उसे अलग रंग में सजाया गया है, और जगन्नाथपुर का ऐतिहासिक तीन मंजिला अब बिल्कुल तैयार है. रथ पर फूल पत्तियां बनाने और पैरों की पेंटिंग का काम अब अपने अंतिम चरण में है.

दो साल की पाबंदियों के बाद इस बार मेला लग रहा है तो मेले का क्षेत्रफल भी बड़ा है. दूरदराज से दुकानदार अपने-अपने सामान लेकर पहुंचने लगे हैं. बड़े बड़े झूले टॉय ट्रेन मौत का कुआं जैसे खेल तमाशे भी अंतिम पड़ाव में है, सुरक्षा व्यवस्था के लिए युवा दस्ता आरएसएस वर्कर और जिला प्रशासन का पुलिस बल पूरी तरह तैयार है. रथ निर्माण के कारीगर रथ कलर्स का कपड़ा और रस्सी लेने पूरी गए हैं. इस बार रथ की खूबसूरती देखते ही बनती है, रथ पहले की अपेक्षा  बड़ा भी है और उसमें दो पहिए ज्यादा पहिया लगाए गए हैं.

बता दें कि 30 जून को स्नान यात्रा होगी और 1 जून को 2 से 3 के बीच भगवान जगन्नाथ भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा एक साथ रथ पर सवार होकर मौसी बाड़ी जाएंगे, इस यात्रा के साथ ही 9 दिन के इस ऐतिहासिक मेले का भी शुभारंभ हो जाएगा.