किसी भी रूप में हो सकता है मौत से सामना ... गिरिडीह में बेकसूर शख्स के मौत का जिम्मेदार कौन?

मुफस्सिल थाना इलाके के गादी श्रीरामपुर में मंगलवार को बिजली विभाग की लापरवाही का खामियाजा आम व्यक्ति को उठाना पड़ा, जहां हाईवोल्टेज करंट तार की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौके पर जलकर दर्दनाक मौत हो गयी.

किसी भी रूप में हो सकता है मौत से सामना ... गिरिडीह में बेकसूर शख्स के मौत का जिम्मेदार कौन?

झकास न्यूज

गिरिडीहः कहते हैं मौत कब, कैसे, किसे आए कोई नहीं जानता... कुछ ऐस ही माजरा गिरिडीह में देखने को मिला जहां अपनी धुन में जा रहे शख्स के उपर बिजली का तार गिर जाता है और उसकी मौते पर ही दर्दनाक मौत हो जाती है. जानकारी के अनुसार जिले के मुफस्सिल थाना इलाके के गादी श्रीरामपुर में मंगलवार को बिजली विभाग की लापरवाही का खामियाजा आम व्यक्ति को उठाना पड़ा, जहां हाईवोल्टेज करंट तार की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौके पर जलकर दर्दनाक मौत हो गयी. मृतक की पहचान गादी श्रीरामपुर हेठपहरी निवासी फागु यादव के रूप में हुई है. जबकि इस घटना में साधु यादव नामक व्यक्ति गंभीर रूप से झुलस गए. घटना के बाद काफी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए. घटना के संबंध में बताया गया कि फागु यादव अपनी बाइक से वापस घर लौट रहे थे. इसी दौरान उनकी बाइक बीच सड़क में गिरी 11 हजार करंट प्रभावित तार की चपेट में आ गयी जिससे कि घटनास्थल पर ही वे बुरी तरह से झुलस गए और उनकी मौत हो गयी.

स्थानीय लोगों ने बताया कि घटना के बाद लोगों ने बिजली विभाग के पदाधिकारियों को कई बार बिजली काटने के लिए फोन किया लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया. इस कारण चाह कर भी लोग मदद नहीं कर सके. इधर घटना के बाद लोगों में बिजली विभाग के खिलाफ आक्रोश है. ग्रामीणों का कहना है कि बिजली विभाग की लापरवाही का खामियाजा अक्सर हैं इस इलाके में ग्रामीणों को उठाना पड़ता है बावजूद इसके बिजली विभाग के अधिकारी अपनी हरकतों से बाज नहीं आते.

मौत नाम से ही एक भय पैदा होती है और बिना किसी कसूर के मौत हो जाए तो किसे कसूर दिया जाए, लेकिन इस हादसे को बिजली विभाग की चेतावनी कहें या महज एक हादसा. जहां बेकसूर शख्स की मौत की सजा उसके परिजनों को भुगतना पड़ेगा.