शराब तस्करी का नया तरीका... दूध के कंटेनर के बाद अब जेनसेट के अंदर शराब रखकर की जा रही तस्करी

गोड्डा के हनवारा बॉर्डर में दूध के कंटेनर में शराब को छुपाकर बिहार ले जाया जा रहा था. वही इस बार पिकअप वैन पर जेनसेट लादकर और उसके भीतर भारी मात्रा में शराब रखकर गोड्डा के रास्ते बिहार ले जाया जा रहा था, इस बार शराब माफियाओं के इस तरीके पर पुलिस भी दंग रह गई.

शराब तस्करी का नया तरीका... दूध के कंटेनर के बाद अब जेनसेट के अंदर शराब रखकर की जा रही तस्करी

Jhakash News 

गोड्डा: बिहार में शराब बंद होने के बाद शराब माफियाओं द्वारा रोज नए नए तरीके शराब छिपाकर बिहार ले जाने के लिए अपनाए जा रहे है. जहां पिछली बार गोड्डा के हनवारा बॉर्डर में दूध के कंटेनर में शराब को छुपाकर बिहार ले जाया जा रहा था. वही इस बार पिकअप वैन पर जेनसेट लादकर और उसके भीतर भारी मात्रा में शराब रखकर गोड्डा के रास्ते बिहार ले जाया जा रहा था, इस बार शराब माफियाओं के इस तरीके पर पुलिस भी दंग रह गई. अमूमन लोग इसको जेनसेट ही समझेंगे यहां तक कि पुलिस को भी इसपर शक नही होगा. मगर इस पिकअप वैन पर सिर्फ जेनसेट की बॉडी थी और उसके अंदर भरे थे 74 पेटियां शराब, जो की अलग अलग साइज की थी. सभी पर रॉयल प्लेयर का लेबल लगा हुआ था और फ़ॉर सेल इन अरुणाचल प्रदेश अंकित था. 

वहीं, गोड्डा के उत्पाद निरीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि जेनसेट लदी पिकअप वैन शराब लेकर दुमका से निकली है जो महगामा तक जाएगी. जिसके बाद उत्पाद विभाग और नगर थाना के सहयोग से आज सुबह 10 बजे के करीब मुफ्फसिल थाना के सामने से गुजरते हुए इस पिकअप वैन को पकड़ लिया गया. बता दें कि इस तरह की तस्करी में अक्सर एक पासर होता है जो वाहन के आगे आगे रास्ता बताने को चलता है. उत्पाद निरीक्षक के अनुसार कोई फैजल खान नामक शख्स पासर का काम कर रहा था जो फरार होने में कामयाब रहा,मगर चालक गिरफ्तार किया गया है.

आपको बता दें कि इससे पहले भी एक बार इसी तरीके से जेनसेट की बॉडी के अंदर शराब भरकर बिहार ले जाया जा रहा था जो पोड़ैयाहाट में दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद मामले का खुलासा हुआ था.